Stri Vashikaran Totke

Control Women by Stri Vashikaran Upay

तलाक से छुटकारा पाएं वशीकरण द्वारा।

प्राचीन काल से ही, हिन्दू धर्म में पति – पत्नी के रिश्ते को ७ जन्मों का अटूट बंधन बताया गया है। कहते हैं की एक बार जो विवाह बंधन में बंध जाता है वह हमेशा के लिए एक दूसरे की ज़िंदगी के सुख-दुख के साथ बंध जाते हैं। लेकिन आधुनिकता के दौर में सब कुछ तेज तर्रार हो गया है। इस भाग-दौड़ भरी जिंदगी में आपसी प्यार का समय कम हो गया है जिस से रोज झगडे होते है। ऐसे में पति – पत्नी के रिश्ते में बोहोत सी अनबन होनी शुरू हो जाती है जो तलाक का भी रूप ले सकती है।

तलाकहाँ, ये सत्य है की कुछ परिवारों में एक पक्ष अभी भी इन झगड़ों को बचाने का प्रयास करते है। वो चाहे पति हो या पत्नी, परिवार को बचाने का हर संभव प्रयास करते है। अगर आपसी रंजिस से ऐसी बहाएं नाह सुलझती हो तो बोहोत से परिवार ज्योतिष विज्ञान को अपनाने में जरा भी नहीं कतराते हैं क्योंकि उन्हें अपने परिवार को फिर से जोड़ना होता है।

तलाक से कैसे बचें?

तलाक वो डरावना शब्द है जिससे सिर्फ भारतीय नागरिक ही नहीं बल्कि विश्व भर इस समस्या से डरता है। तलाक से न केवल दो व्यक्तियों का जीवन ही नहीं  बल्कि दो या इससे अधिक परिवार इसके के फेर में फंस जाते हैं। ये बिलकुल सत्य है की परिवार में किसी के न चाहने पर भी तलाक की स्थिति बन जाती है। ऐसा तलाक के कुंडली में योग होने के कारण होता है।

जाने तलाक के बारे में कुंडलियां क्या कहती हैं।

तलाकयदि आपकी कुंडली में शनि सप्तम् भाव में होता है तो इससे घर में क्लेश और झगड़े होने लगते हैं । राहू ग्रह भी पति-पत्नी के सम्बन्धों में कड़वाहट पैदा करता है। इसलिए अगर आपकी कुंडली में राहू ग्रह है तो समझिए कुंडली में तलाक के योगभी हैं। अगर ऐसा कुछ आपके साथ है तो फौरन ही तलाक रोकने के उपाय अपनाने चाहिए। हमारे विशेषज्ञ आपको इस लेख में तलाक को कैसे रोकना है बताएँगे। लेकिन आपको इनको अपनाने के समय सावधानी और प्रतीक्षा – दोनों का समावेश रखना होगा। क्योंकि सावधानी ही ऐसी वस्तु है जो प्रतीक्षा की प्रतिष्ठा को तोड़ती है।

पढ़ें – कैसे पाएं वशीकरण टोटकों द्वारा प्रेम में सफलता ?

तो पढ़िए निचे दिए गए ताटकों को तथा अपनाइए इन्हे अपनी ज़िन्दगी में अगर आप अपनी समस्या को सुलझाना चाहते हैं। –

  1. रुद्राक्ष धारण :-
    राहू के दुष्प्रभाव को रोकने के लिए रुद्राक्ष धारण करना ,तलाक रोकने का अचूक टोटका है। राहू के प्रभाव को खत्म करने के लिए अष्टमुखी रुद्राक्ष धारण करना चाहिए। शनि के प्रभाव को कम करने के लिए सप्तमुखी रुद्राक्ष अच्छा होता है।
  2. मंगलवार उपाय :-
    मंगलवार का दिन मंगलकारी हनुमान जी का होता है। कहते हैं श्री हनुमान जी की शरण में जाने से हर कष्ट कट जाता है। तलाक रोकने के उपाय के लिए सातमंगलवारतकयह उपाय करें । इस उपाय के लिए नींबू, सुपारी, लौंग, मेलफल, तांबा और सीताफल लें। यह सब चीजें 7 की गिनती में और त्रिकोण के आकार में लें । अब इन सब चीजों को एक लाल रंग के कपड़े में बांध लें। मंगलवार के दिन यह सब चीजें हनुमान मंदिर में चड़ा दें। कहते हैं यह तलाक रोकने के ज्योतिष उपायों में से एक सर्वश्रेष्ठ उपाय है ।
  3. तिल का टोटका :-
    तलाक रोकने का टोटका तिल का दान भी है। अगर आप अपने किसी परिजन की कुंडली में तलाक का योग है तो यह टोटका आजमा सकते हैं। इस टोटके के लिए गंगाजल और दूर्वा की सहायता से काले तिल ले लें। अब उस दंपत्ति के शयनकक्ष में यह काले तिल चारों ओर छिड़क दें। ऐसा करने से निश्चय ही यह टोटका तलाक रोकने में काम करता है।
  4. शनिवार उपाय :-

    कभी ऐसा भी हो सकता है की आपकी कुंडली में तलाक का योग शनि ग्रह के कारण हो रहा हो। तब शनि को शांत करने का उपाय करना चाहिए। इसके लिए शनिवार के दिन हनुमान जी की तस्वीर को गुड का भोग लगा कर काली गाय को खिला दें । यह उपाय लगातार सात शनिवार तक करें । यह तलाक रोकने के उपाय हैं ।

  5. गौ ग्रास :-
    अगर आपको ऐसा लगता है की कोई आपके ऊपर डाइवोर्स करने के टोटके आजमा रहा है तो घबराएँ नहीं । इसके तोड़ के लिए आप तलाक रोकने के टोटके आजमा सकते हैं। गौ सेवा हर सेवा में सबसे अच्छी मानी जाती है।
    गुरुवार के दिन आप यह उपाय कर सकते हैं। तीन सौ ग्राम बेसन के लड्डू, दो पेड़े आटे से बने हुए , तीन केले और भीगी चना दाल लें। यह सब लेकर गुरुवार के दिन किसी गाय को खिला दें। उस समय गाय को माँ मानकर अपने परिवार की रक्षा की प्रार्थना करें । कोई आपके परिवार को तोड़ नहीं पाएगा|
  6. स्वस्तिक चिन्ह:-
    अगर आपको अपना परिवार बचाना है तो यह उपाय करें। रात को सोने से पहले थोड़ी सी साबुत हल्दी ले लें । इस हल्दी से अपने माथे पर तिलक लगाएँ। यह तिलक सामान्य तिलक नहीं है। यहाँ स्वस्तिक का निशान तिलक के रूप में लगाएँ । डाइवोर्स रोकने के टोटके के रूप में स्वस्तिक का तिलक बहुत कारगर उपाय है।
  7. पूर्णिमा व्रत :-

    किसी भी समय में विवाह सूत्र को तोड़ना किसी के लिए भी लाभकारी नहीं है। यदि किसी समय आपको महसूस हो की तलाक के कुंडली में योग बन रहे हैं तो निश्चय ही कुछ करना चाहिए। पूर्णिमा व्रत किसी भी समस्या के निवारण हेतु बहुत लाभकारी उपाय है। जब आप इस समस्या को रोकने के उपाय कर रहे हों तो यह व्रत एक भिन्न रीति से करना चाहिए। व्रत करने से पहले कच्चे दूध से नहा लें। उसके बाद इस व्रत की पूजा और विधि सम्पन्न करें। आपको निश्चय ही इसका मनचाहा फल मिलेगा।

  8. शिव अभिषेक :-
    आपको अपनी कुंडली से ऐसी गंभीर समस्या के योग का प्रभाव खत्म करना है तो शिव आराधना सबसे उत्तम उपाय है। डाइवोर्स रोकने का ज्योतिषीय उपायों में सबसे सरल उपाय है यह उपाय। इसके लिए पूर्णिमा के दिन का चयन करना चाहिए। इस दिन शहद से शिवलिंग का अभिषेक करें। कुछ समय तक यह उपाय करने से आपके परिवार से यह संकट टल जाएगा।

जाने तलाक को किन हालत में नहीं रोकना चाहिए –

  1. जब हालात सारे उपाय के बाद भी विपरीत हों तो ऐसे में तलाक करना ही आवश्यक है।
  2. जब कोई एक पक्ष किसी भी प्रकार से वैवाहिक रिश्ता निभाने का प्रयास न करे तो तलाक रोकना नहीं चाहिए।
  3. अगर कोई ऐसा कष्ट कुंडली में हो जिससे आपका तलाक करना आवश्यक हो तो तलाक बिलकुल मत रोकिये। हाँ , तलाक होने के बाद आपको फिर से शादी भी हो सकती है क्योंकि कष्ट तो तलाक का ही होता है तो आप फिर से उसी से विवाह कर सकते हैं।

कोर्ट केस से छुटकारा पाएं –

अगर आप अपना केस जल्दी समाप्त करना चाहते हैं तो यह उपाय करें । पाँच गोमती चक्र अपने साथ लेकर कोर्ट जाएँ और वहाँ उन्हें अपने पाँव के नीचे रख लें । आप मनचाहा फैसला बिना किसी रुकावट के पा सकते हैं।

स्त्री वशीकरण विशेषज्ञ से जाने की कैसे तलाक से छुटकारा पाया जाये।

यदि पति या पत्नी एक दूसरे से परेशान है और अलग होना चाहते है तो हमारे बताये उपाय को अमल कर अपना कार्य पूर्ण कर सकते है। यदि कोई पति या पत्नी अपने रिश्ते को बचाना चाहते है तो भी हमारे बताये गए टोटके और उपाय से सब संभव है। इसके अलावा यदि अभी भी आपकी समस्या का समाधान नहीं हुआ है तो हमारे स्त्री वशीकरण विशेषज्ञ से संपर्क करे और किसी भी समस्या का समाधान पाए।

जाने स्त्री वशीकरण टोटके के अहम् फायदे हमारे वशीकरण विशेषज्ञ द्वारा। Frontier Theme

Click Here for Call, Msg and Whatsapp

call now sms now whatsapp now